Chorgalia visit of District Magistrate Nainital

Publish Date : 20/07/2019
Chorgalia Visit of DM

हल्द्वानी/चोरगलिया 19  जुलाई  2019 (सूचना)-  जिलाधिकारी सविन बंसल ने दुरस्थ क्षेत्र चोरगलिया में लोगों की जनसमस्यायें सुनी व आपदा सम्भावित नदी क्षेत्र का किया स्थलीय मुआयना। सिचाई विभाग विश्राम गृह चोरगलिया में जनसमस्यायें सुनते हुये जिलाधिकारी श्री बंसल ने जनता की मांग पर कहा कि चोरगलिया प्राथमिक चिकित्सालय में सात दिन के भीतर चिकित्सक व स्टाफ नियमित बैठेंगे व 108 चिकित्सा वाहन तैनात करने के लिए वार्ता की जायेगी। उन्होने चोरगलिया बाढ की समस्या को देखते जल्द ही कैलाश और देवा नदी के मुहाने खोलने के निर्देश सिचाई विभाग को दिये। श्री बंसल ने कहा कि नंधौर नदी में नये गेट खोलने एवं स्थानीय लोगों के वाहन पंजीकरण हेतु खनन समिति की बैठक शीघ्र बुलाई जायेगी व क्षेत्रीय जनता के वाहन पंजीकरण करने पर विचार किया जायेगा। उन्होने चोरगलिया के आमखेडा में मण्डी समिति द्वारा 3 करोड की धनराशि से तटबंध बनाने का कार्य बन्द होने की शिकायत पर मण्डी सचिव से पत्रावली तलब की। उन्होने जनसमस्याए सुनते हुये खुलेआम शराब बिकने की शिकायत पर अपर पुलिस अधीक्षक अमित श्रीवास्तव को तत्काल छापेमारी करने के निर्देश मौके पर दिये।

जनप्रतिनिधि पान सिह मेवाडी ने प्राथमिक चिकित्सालय में 108 सेवा तैनात करने तथा चिकित्सक की नियमित तैनाती करने पर्याप्त जीवन रक्षक दवायें चिकित्सालय मे रखने चोरगलिया के नंधौर नदी मे रूके हुये बाढ सुरक्षा कार्य जल्द प्रारम्भ कराने तथा कैलाश नदी मे पानी ड्राइवर्जन कराने व नंधौर नदी मे नये गेट खोलने की मांग रखी। प्रकाश बेलवाल ने चोरगलिया सडक पर बडे-बडे गड्डे होने से दुर्घटनाये होने की सम्भावना व्यक्त करते हुये गडडे भराव व मरम्मत की मांग रखी। साथ ही इन्टर कालेज की छत जीर्णशीर्ण होने से कमरों मे पानी भराव व दुर्घटना की सम्भावना व्यक्त की जिस पर जिलाधिकारी ने तत्काल मौके पर मौजूद जिला शिक्षा अधिकारी को निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। जनता द्वारा मछली वन में 12 करोड की लागत से बनने वाले ट्रंचवेयर के रूके कार्य को शीघ्र प्रारम्भ कराने व नंधौर वन क्षेत्र मे खनन वाहन पार्किग कराने की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने वनक्षेत्राधिकारी से पत्रावली बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। पूर्व सैनिक ने शेरनाला पर स्वीकृत पुल पर कार्य कराने के लिए शासन से वार्ता करने की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने शीघ्र शासन से वार्ता की जायेगी। भुवन पोखरिया  द्वारा भी विभिन्न जनसमस्यायें रखी गई।

निरीक्षण व जनसमस्यायें सुनने दौरान मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, अपर जिलाधिकारी कैलाश सिह टोलिया,सिटी मजिस्टेट प्रत्यूष सिह,आयुक्त नगर निगम सीएस मर्तोलिया, अधीक्षण अभियन्ता सिचाई एनएस पतियाल,अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एसएस रावत,उप प्रभागीय वनाधिकारी धु्रव मर्तोलिया, डीएलएम बीएस बोरा, रेंज अधिकारी आरपी जोशी, मुख्य कृषि अधिकारी धनपत कुमार सहित अनेक अधिकारी व जनप्रतिनिध जनता मौजूद थी।