नैनी झील

नैनीताल की सुंदरता का केंद्र बिंदु यहॉ पर स्थित सुंदर नैनी झील है । सूर्य की रोशनी में यहॉ की सात पहाडियों पर स्थित भवनों एवं वनस्पति को प्र्तिबिम्बित करती यह झील बहुत मनोरम दृश्य प्रस्तुत करती है जबकि रात्रि में पहाडों के ऊपर ढलानों पर जलते बल्बों तथा झील के किनारे लगे हुए अनेक बल्बों की रोशनी तालाब के पानी में जादूयी अहसास प्रस्तुत करती है ।

यह झील यहॉ पर आने वाले सैलानियों को चप्पू वाली अथवा पैडल वाली नाव से नौकायान के पर्याप्त अवसर प्रदान करती है । ज्यादा साहसी लोग पाल नौकायन का भी आन्नद उठा सकते हैं । इन सभी नौकाओं हेतु किराया सूची प्री-पेड बूथों पर दर्शायी गयी है । ये नौकायें झील के दोनों ओर तथा मध्य में भी उपलब्ध हैं ।

झील के उत्तरी छोर को मल्लीताल तथा दक्षिणी छोर को तल्लीताल के नाम से जाना जाता है । मल्लीताल में फ्लैट्स स्थित है जबकि तल्लीताल में बस स्टेशन, टेक्सी स्टेशन, रेलवे बुकिंग काउंटर एवं पोस्ट आफिस है । तल्लीताल के क्षेत्र का एक भाग एक पुल के ऊपर के बना है जिसे स्थानीय लोग डाठ के रूप में जानते हैं । झील के दोनों ओर बाजार हैं जहॉ से आप आवश्यक वस्तुयें खरीद सकते हैं ।

कैसे पहुंचें:

वायु मार्ग द्वारा

पंतनगर एयरपोर्ट से 70 कि.मी. दूर है ।

ट्रेन द्वारा

काठगोदाम रेलवे स्टेशन से 34 कि.मी. दूर है ।

सड़क के द्वारा

हल्द्वानी बस स्टेशन से 40 कि.मी. दूर है ।